Breaking News

मजे से चलाएं AC, फिर भी कम आएगा बिजली बिल, बस इन बातों का रखना होगा ख्याल..

गर्मी अब दस्तक देने वाली है। इस मौसम में बिजली की खपत भी बढ़ेगी। जब बिजली ज्यादा प्रयोग होगी तो जाहिर सी बात है कि बिल भी बढ़ेगा। बिल ज्यादा होगा तो जेब भी हल्की होगी। ऐसे में अगर आप चाहते हैं कि आप पर बिजली बिल का ज्यादा बोझ न पड़े तो उसके लिए कुछ तरकीब अपनानी होंगी। यह तो हर कोई जानता है कि जब किसी उपकरण के माध्यम से कोई कार्य किया जाता है तो उसमें कार्य के हिसाब से शक्ति यानी ताकत लगानी होती है। काम मुश्किल हो तो ज्यादा ताकत लगेगी। जब ताकत अधिक लगेगी तो लागत भी बढ़ेगी।

दरअसल होली बीतने के साथ ही अब गर्मी दस्तक देगी। पहाड़ी इलाकों को छोड़ दें तो मैदानी इलाकों में मार्च शुरुआत से ही सूर्यदेव अपने तेवर दिखाने लगे हैं। ऐसे में अगर आप बिजली के बिल से राहत पाना चाहते हैं तो जल्द ही ये काम कर लीजिए। गर्मी शुरू होते ही बिजली का इस्‍तेमाल बढ़ जाता है। लोग एयर कंडीशनर, फ्रिज और कूलर का उपयोग करने लगते हैं। ऐसे में अगर आप इन जरूरी तरीकों को ध्यान में रखेंगे तो बिजली का बिल काफी कम किया जा सकता है।

गर्मी के मौसम में जो उपकरण ज्यादा प्रयोग होंगे, उनमें पंखा, कूलर, एसी शामिल हैं। बाकी उपकरण तो लगभग सर्दियों में भी चालू रहते हैं। गर्मी में जो उपकरण ज्यादा प्रयोग होगे, वे कई महीने से बंद है। ऐसे में जब इन उपकरणों को चालू किया जाएगा तो ये इंसानी शरीर की तरह ही व्यवहार करेंगे। यानी शरीर अगर चुस्त-दुरुस्त है तो वह कोई भी काम अच्छे से और आसानी से करेगा। यदि ऐसा नहीं है तो फिर उस काम को करने के लिए ज्यादा समय और ताकत लगेगी। कहने का अर्थ यह है कि जब उपकरण चुस्त-दुरुस्त होंगे तो वे बिजली की खपत कम करेंगे। बिजली कम खर्च होगी तो स्वाभाविक तौर पर बिल ज्यादा नहीं होगा।

पुराने फिलामेंट बल्ब और CFLs ज्यादा बिजली कंज्यूम कर सकते हैं. अगर आप उन्हें LED बल्ब से रिप्लेस करते हैं तो आपका बिजली बिल काफी कम हो जाएगा. अगर आप नंबर्स की बात करें तो एक 100-वॉट का फिलामेंट बल्ब 10 घंटे में 1 यूनिट बिल कंज्यूम करता है जबकि आप 15 watt CFL 1 यूनिट बिजली बिल 66.5 घंटे में कंज्यूम करता है. LED बल्ब की बात करें तो एक 9-वॉट का LED 111 घंटे में एक यूनिट बिजली बिल कंज्यूम करता है.

जब भी आप फ्रिज, एसी जैसे एप्लायंस खरीदते हैं तो आपको रेटिंग का विशेष ध्यान रखना होगा. 5-स्टार वाले एप्लायंस काफी कम बिजली की खपत करते हैं. हालांकि, इनकी कीमत ज्यादा होती है लेकिन इससे बिजली बिल काफी कम आता है. आप जब AC यूज करें तो उसका टेंपरेचर 24-डिग्री रखें. इससे आपका रूम भी ठंडा रहेगा और आपकी पॉकेट पर ज्यादा असर भी नहीं होगा. इसके अलावा आप इसमें टाइमर भी सेट कर सकते हैं जिससे रूम ठंडा होने पर एसी अपने आप बंद हो जाएगा.

अगर आप कई एप्लायंस को एक साथ चला रहे हैं तो Power strip का यूज करें. इससे जब ये आइटम्स यूज में नहीं होगा तब आप सबको एक साथ ऑफ करके phantom एनर्जी लॉस से बच सकते हैं.

एसी को 24 डिग्री पर चलाएं, जिससे दिल्ली में काम आएगा। आपको थोड़े दिन बाद अपने बिजली बिल में काफी अंतर देखने को मिलेगा। इसके अलावा आप टाइमर का भी उपयोग कर सकते हैं। अपने एसी सेटिंग्स में बदलाव में बदलाव करके हर महीने आप 4-5 हज़ार रुपए तक की बचत कर सकते हैं।साथ ही अगर कोई बिजली उपकरण खरीदने जाएं तो उसके रेटिंग का ज़रूर ध्यान रखें। चाहें तो कई सारे डिवाइस इसके लिए एक एक्सटेंशन बोर्ड का भी इस्तेमाल कर सकते हैं, क्योंकि इस तरह एक प्लग को ऑफ कर के कई सारे मैसेज एक साथ बिजली बचाए जा सकते हैं।

About admin

Check Also

अपने शरीर का पसीना बेचकर , कमाए लाखो, देखिये क्या है, एक गिलास पसीने की कीमत…

एक रिएलिटी टीवी स्टार ने पैसे कमाने के लिए एक अजीबोगरीब आईडिया अपनाया है. वह …

Leave a Reply

Your email address will not be published.