Breaking News

900 किलो चिल्लर ट्रक में भरकर पहुंच गया 50 लाख की BMW खरीदने फिर जो हुआ..

माय डिअर फ्रेंड्स क्या आप ढेर सारे चिलर अपने साथ ले जाकर कार खरीदने की कल्पना कर सकते हैं और वो भी ऐसी वैसी का नहीं BMW , आप ये सोचें या न सोचें पर ये सच जिसके बारे में हम चर्चा करने जा रहे हैं। फ्रेंड्स अपने देश में सरकारी ऐलान के बावजूद भी सब्जी भाजी वालों ने सिक्कों का लेन – देन सा बंद कर दिया है कि साइकिल में हवा भरवाने से लेकर छोटी -छोटी रोजमर्रा की चींजो जैसे हर धनिया लाना हो तो आपको कुछ चिलर की जरूरत तो पड़ेगी और अब आपकी चिलर को दूकानदार स्वीकार नहीं करता मतलब छोटे धंधे वालों ने खुद अपने पाँव में कुल्हाड़ी मार ली है। कभी चिलर का ना होना आफत था।

लोग इधर – उधर चिलर मांगते दिख जाते थे और अब चिलर का होना भी आफत समझा जाने लगा है। बैंक वाले भी इसे लेने में हिचकिचाने लगे हैं। अब आप खुद ही सोचिये कोई ऐसे हाल में 900 किलो चिलर ट्रक में भरकर कार लेने पहुंच जाएँ वो भी BMW तो आप क्या कहेंगे ? फ्रेंड्स अब तो दान पेटी पर लिखना शुरू कर दिया है ” कृपया सिक्के ना डालें ” |

बैंक वालों को तो इनकी खनखनाहट भी इरिटेट करने लगी है , मजे की बात तो ये है की चाइना में एक शख्स करीब 900 करोड़ की चिलर को ट्रक में भरकर BMW कार लेने पहुंच गया। इस कार की कीमत लगभग 50 लाख रूपये थी , पहले तो कार शोरूम का मालिक उस व्यक्ति की बात सुनकर हैरान हुआ। कार दिखाने के बाद अब रकम की बात आई तो उस व्यक्ति ने कार शोरूम के मालिक को चिलर से भरा ट्रक दिखाया जिसे देखकर कार शोरूम मालिक हक्का – बक्का रह गया। 900 किलो की ये चिलर देखकर हैरान शोरूम के मालिक ने कहा अब आप ही बताइये इतनी सारी चिलर हम कैसे ले सकते हैं ?

अरे इसे तो बैंक वाले भी नहीं लेने वाले हम कैसे आपको 900 किलो चिलर के बदले 50 लाख की BMW की गाडी दे दें ? जबकि इसको गिनने में हमारा कितना टाइम खर्च होगा, इसका अंदाजा है आपको ?कार शोरूम मालिक की बात सुनकर चीन का रहने वाला व्यक्ति बहुत ही उदास और निराश हो गया। उस चीनी व्यक्ति की उदास स्थिति देखकर कार शोरूम मालिक ने इसे इज़्ज़त से बिठाया और उस बारे में बात – चीत की।

जब इस चीनी व्यक्ति ने कार शोरूम मालिक को इतनी सारी चिलर लाने की वजह बताई तो सुनकर मालिक भी गहरी सोच में पड़ गया। उस चीनी व्यक्ति ने बताया मुझे बचपन से ही कारों का शौक रहा है बड़े होते होते मेरा ये शौक और बढ़ गया। मेरी बड़ी तमन्ना थी कि मेरे पास महंगी BMW कार हो जोकि 50 लाख की है। इतनी बड़ी रकम का इंतजाम करने में मैं असमर्थ था इसलिए मैंने अपनी मेहनत की पाई – पाई जोड़कर BMW कार की रकम को जोड़ा।

मगर आपकी चिलर अस्वीकार करने से मेरा सपना टूट गया , मैं इस बात से बहुत निराश हो गया हूँ। फ्रेंड्स उस चीनी व्यक्ति की मासूमियत से कही गई इस बात का असर उस कार शोरूम के मालिक के दिल पर हो गया। उस पर दया आ गयी , वो इस चीनी आदमी की बातें सुनकर पिघल गया। आख़िरकार शोरूम मालिक उस चीनी व्यक्ति को BMW कार देने के लिए राजी हो गया। उसने तुरंत बैंक स्टाफ से कुछ व्यक्तियों को सिक्के गिनने के लिए बुलाया।

जब बैंक कर्मियों ने वो सिक्के गिने तो वो पुरे 50 लाख सिक्कों की चिलर थी। फ्रेंड्स एक हम थे जो ज़रा – ज़रा सी जरूरतों और लालच के चलते अपनी मिट्टी की गुलक तोड़ देते थे। अरे हंस रहे हैं आप , क्या अपने भी अपनी गुलक को पूरा भरने से पहले ही तोडा था ? बताइये हाँ या ना। हाँ तो हम बात कर रहे थे उस चीनी आदमी की ढेर सारी चिलर जमा करने वाला ये आदमी दरअसल बस ड्राइवर है।

फ्रेंड्स यहाँ एक बात और गौर करने वाली है कि हमारे पास चाहे लाख रूपये चिलर हो मगर चिलर कभी भी अमीरी का एहसास नहीं करवाती। ऐसा क्यों होता है ये हम नहीं जानते मगर चिलर से भरी जेब फकीरी का एहसास करवाती है।हम सब सच बोल रहे हैं फ्रेंड्स। मगर दाद देनी चाहिए इस चीनी व्यक्ति की। भाई कमाल का बंदा है ये तो इसने बून्द – बून्द करके सागर भर लिया था। ये और बात है कि ये सागर 900 किलो चिलर का था यानी पुरे पचास लाख का।

फ्रेंड्स ये घटना चीन के टाउन ग्रेन की है ,भारतीय मुद्रा पचास लाख की बनती है तो चीन में ये रकम 4 लाख 80 हज़ार युवान कहलाएगी। ये चीनी व्यक्ति हमेशा से लक्ज़री गाड़ी खरीदना चाहता था , उसका ये सपना हुआ करता था।उसने सिक्के गिनने में चार दोस्तों की मदद भी ली फिर उसने इन्हें अपने पिक अप ट्रक में लोड लिया और पहुंच गया शोरूम। आपको बता दें चिलर गिनने में बैंक के 11 कर्मचारियों की मदद ली गई जिन्होंने सिक्का गिनने वाली मशीन की सहायता से इन सिक्कों को दस घंटों की मेहनत से गिना।

900 किलो वजनी ये सिक्के डेढ़ लाख थे। आख़िरकार कार रूम के पुरे स्टाफ ने इस चीनी आदमी की दृढ़ता और लगन का सम्मान करते हुए तालियों की गड़गड़ाहट के साथ उसके सपने की चाबी यानी BMW की चाबी उसे सौंप दी। उसने चाबी ली और स्टार्ट की और निकल गया। अपने पीछे हैरानी का गर्दो उभार छोड़कर।

About admin

Check Also

सगाई कर सलमान खान के घर की बहु बनी सोनाक्षी सिन्हा, देखिये पूरी खबर..

सोनाक्षी सिन्हा ने अपनी पहली फ़िल्म सलमान खान के साथ करी थी जो कि बहुत …

Leave a Reply

Your email address will not be published.