Breaking News

बिजनेसमैन ने खुश होकर वेट्रेस को दी साढ़े तीन लाख रुपए की टिप, मालिक ने नौकरी से निकाल दिया

जब कभी हम होटल या रेस्टोरेंट में जाते हैं तो वहां का खाना अगर अच्छा लगता है तो टिप जरूर देते हैं। कई बार हम वेटर से भी इतने प्रभावित हो जाते हैं कि उसे अच्छी-खासी रकम दे देते हैं। मीडिया में भी टिप को लेकर अक्सर खबरें सामने आती रहती हैं। लेकिन, अमेरिका से एक ऐसा मामला सामने आया है, जिसमें टिप मिलने के बाद एक वेट्रेस की नौकरी चली गई। अब आप सोच रहे होंगे कि आखिर टिप से मिलने से नौकरी क्यों चली गई?

ऐसे कई छात्र हैं, जो जेब खर्च या फिर स्कूल व कॉलेज की फीस भरने के लिए पार्ट टाइम जॉब का सहारा लेते हैं. ऐसी ही एक छात्रा रेयान ब्रांट रेस्टोरेंट में पार्ट टाइम वेट्रेस का काम करती है अमेरिका में रयान ब्रांड्ट नाम की लड़की अपनी एजुकेशन लोन को चुकाने के लिए एक रेस्त्रां में वेटर का काम करती थी। इस दौरान एक दिन ऐसा आया जब उसकी किस्मत चमकने वाली ही थी कि उसे किसी की नजर लग गई।

दरअसल हुआ ये कि वहां के एक रेस्टोरेंट में काम करने वाली वेट्रेस को एक अमीर शख्स ने साढ़े तीन लाख रुपए की भारी भरकम टिप दी। इतनी मोटी रकम पाकर वह काफी खुश थी, लेकिन उसे क्या पता था कि उसे मिली साढ़े तीन लाख रुपए की टिप उसकी नौकरी के लिए खतरा बन जाएगी। उस वेट्रेस की खुशी रेस्टोरेंट मालिक को हजम नहीं हुई और उसने उसे नौकरी से निकाल दिया। रेयान की स्टोरी इन दिनों खूब चर्चा में है. यह मामला अमेरिका के अर्कनसास का है. रेयान अर्कनसास के बेन्टॉनविले में मौजूद एक रेस्टोरेंट में बतौर वेट्रेस पार्ट टाइम जॉब करती थी. कुछ दिन पहले एक अमीर शख्स ने उसे टिप में साढ़े तीन लाख रुपए दे दिए. लेकिन इस टिप की वजह से रेयान को अपनी नौकरी गंवानी पड़ गई. टिप के बाद रेस्टोरेंट मालिक ने उसे नौकरी से बाहर कर दिया.

बता दें कि ओवन एंड टैप में वेट्रेस का काम करती थी. उसने एजुकेशन लोन ले रखा था. जिसे वो अपनी इस पार्ट टाइम जॉब की सैलरी से चुका रही थी. अब थोड़ा फ्लैशबैक में चलते हैं. बीते दिनों जब उसे साढ़े तीन लाख की टिप मिली, तो उसकी आंखों में खुशी के आंसू आ गए. लेकिन उसकी ये खुशी तब छिन गई, जब रेस्टोरेंट मालिक ने उसे नई पॉलिसी का हवाला देते हुए उसे टिप के पैसे बाकी वेटर्स के साथ शेयर करने को कहा.

दरअसल जैसे ही महिला को वह टिप मिली, रेस्टोरेंट के मालिक ने कहा कि आपको यह टिप अपने साथियों में बांटनी होगी। जबकि अब तक की नौकरी में उससे ऐसा पहले कभी नहीं कहा गया था। हकीकत तो ये है टिप पर उसी वेटर का हक होता है जिसे वह दी जाती है। खाना खाने आया कोई भी व्यक्ति वेटर की सर्विस से खुश होकर उसे टिप देता है। लेकिन रेस्टोरेंट के मालिक ने महिला से यह टिप उसके साथ काम करने वाले साथियों के साथ शेयर करने को कहा।जब टिप में इतनी बड़ी रकम मिली, तो मालिक का मन डोल गया और उसने नई पॉलिसी का बहाना बनाकर उस पर टिप शेयर करने का दबाव बनाना शुरू कर दिया. लेकिन रेयान ने यह बात उस बिजनेसमैन को बता दी, जिसने उसे टिप में बड़ी रकम दी थी. इसके बाद ही रेयान को रेस्टोरेंट मालिक ने निकाल दिया.

इस घटना के बाद टिप देने वाले शख्स ने वेट्रेस रयान की मदद के लिए हाथ बढ़ाया और गोफंडमी नाम से पेज बनाया। इसके माध्यम से लोग रयान को उसकी नौकरी जाने के बाद एजुकेशन लोन चुकाने में मदद कर सकते हैं। दरअसल रयान एक स्टूडेंट थी जिसपर लाखों रुपये का एजुकेशन लोन था। इसे चुकाने के लिए वो एक होटल में वेट्रेस का काम करती थी। इस टिप के पैसे मिलने पर उसे लगा कि वह इससे लोन की पूरी रकम चुत्ता कर देगी, लेकिन मैनेजर ने उसकी टिप अन्य वेट्रेस में बंचवा दी और उसे नौकरी से भी निकाल दिया गया।

 

About admin

Check Also

दो बच्चों के साथ पति ने छोड़ दिया, बच्चों के लिए लगाने पड़े सड़कों पर झाड़ू, अब बनेगी SDM

कहते हैं भाग्य में जितना लिखा होता है उतना ही इंसान को मिलता है ना …

Leave a Reply

Your email address will not be published.